Thu, 27th Jul 2017

ओम पुरी की लाइफ से जुड़ी खास बातें

ओम पुरी में रंगकर्म को लेकर अलग ही पैशन था। वह 66 साल के थे। उन्होंने 100 से ज्यादा हिंदी और 20 हॉलीवुड मूवी में काम किया था।

भलाकुसारी | Published on 2017-01-08 |

सिने अभिनेता ओम पुरी की एक ही इच्छा थी कि फिल्मों में एक्टिंग करें, इसलिए नाट्य विद्यालय से पास आउट होने के तुरंत बाद वे पुणे फिल्म इंस्टीट्यूट चले गए। ओम पुरी में रंगकर्म को लेकर अलग ही पैशन था इसलिए फिल्मों में अपना परचम फहराने के बाद भी उनके मन में थियेटर के प्रति लगाव बना रहा। पढ़ें उन्हीं ओम पुरी की कॉलज लाइफ से जुड़ी ये खास बातें...

- काम के ऐसे जुनूनी थे कि वे रात दो-दो बजे तक अकेले ही रिहर्सल करते रहते थे। इसी जुनून की वजह से उन्होंने बॉलीवुड और हॉलीवुड में अपना खास मुकाम बनाया।

- अंतरराष्ट्रीय स्तर की सफलता अर्जित करने के बावजूद उनमें सादगी कूट-कूट कर भरी थी। उनके व्यक्तित्व में ऐसा आकर्षण था कि पहली ही नजर में कोई भी उनका मुरीद हो जाता था।

- गरीब होने के बावजूद वे दिल के बड़े अमीर थे। मैं जब भी मुंबई में होता तो कम से कम एक शाम तो हम दोनों साथ ही बिताते।

उनके दोस्त ने बताई कॉलज लाइफ में कैसे थे ओम पुरी

- मैं, ओमपुरी और नसीरुद्दीन शाह 1970 से 1974 तक करीब चार साल तक राष्ट्रीय नाट्य विद्यालय (एनएसडी) में साथ रहे और साथ में ही नाट्य विधा सीखी।

- नसीर और ओमपुरी एक्टर ही बनना चाहते थे और मैं डायरेक्शन में अपना मुकाम बनाना चाहता था।

- एनएसडी से पास आउट होने के बाद मैंने पहला नाटक “द लेशन’ निर्देशित किया, जिसमें ओमपुरी मुख्य भूमिका में थे।

- इससे पहले यह भूमिका नसीर करते थे लेकिन ओम पुरी ने यादगार भूमिका निभाई। मेरे निर्देशित नाटक “हेमलेट’ में उनकी निभाई भूमिका भी यादगार रही।

दोस्त के साथ मिलकर मनाया था गुरु जन्मदिन

- ओम के साथ प्रोफेशनल के रूप में काम करने का मजा आता था और तालमेल भी अच्छा था।

- हालांकि मैंने नसीरूद्दीन आदि के साथ भी काम किया, लेकिन ओमपुरी के अनुभव का अहसास अलग ही है।

- वे अच्छे अभिनेता होने के साथ काम के प्रति समर्पित और बेहतरीन इंसान भी थे। ओमपुरी की इच्छा कोई ऐसा नाटक करने की थी जिसमें वे अकेले ही किरदार हों।

- वे अक्सर अपनी इस इच्छा के बारे में बात भी करते थे। उनके जेहन में आखिर तक पंजाबियत रची-बसी रही।

- इतने जल्दी ओम हमें छोड़कर चले जाएंगे, यह नहीं सोचा था। हाल ही में हमने अपने गुरु अब्राहम अकेला का 90वां जन्मदिन मनाया था।

- उस मौके ओम पुरी मिले थे और काफी बातें भी हुईं। तब नहीं लगा था कि यही मुलाकात आखिरी हो जाएगी।

- 20 हॉलीवुड मूवी में किया था काम

ओम पुरी को 'अर्ध सत्य' और 'आरोहण' मूवी के किरदार के लिए बेस्ट एक्टर के नेशनल अवॉर्ड से नवाजा गया था।

वह 66 साल के थे। उन्होंने 100 से ज्यादा हिंदी और 20 हॉलीवुड मूवी में काम किया था।

दैनिक भास्कर

***


© People to People Media 2016. All rights reserved.